देश के आर्थिक विकास एवं उन्नति में कृषि की महत्वपूर्ण भूमिका: गणेश जोशी

ipressindia
0 0
Read Time:9 Minute, 22 Second

हरिद्वार ।    प्रदेश के कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने शुक्रवार को जनपद हरिद्वार के लक्सर में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के 04 वर्ष पूर्ण होने पर भाजपा किसान मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। इस अवसर पर लक्सर पहुंचने पर भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकारियों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा मंत्री गणेश जोशी का भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर मंत्री गणेश जोशी ने अपने संबोधन में कहा कि भारत एक कृषि प्रधान देश है, देश के आर्थिक विकास एवं उन्नति में कृषि की महत्वपूर्ण भूमिका है। देश को खाद्यान्न में आत्मनिर्भर बनाने के लिए कृषि वैज्ञानिकों और हमारे किसान भाईयों एवं बहनों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। कृषि के विकास के लिए तथा कृषि को सुविधाजनक बनाने कि लिए इस प्रदेश में प्रदेश सरकार के द्वारा कृषि विभाग के माध्यम से कृषि से सम्बन्धित महत्त्वपूर्ण जनकल्याणकारी कार्यक्रम संचालित किये जा रहे है जिससे किसान भाई लाभान्वित होने के साथ-साथ कृषि में भी विकास कर रहे है।

मंत्री श्री गणेश जोशी ने देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने 01 दिसम्बर, 2018 से कृषकों को कृषि कार्य हेतु कृषि निवेश कय किये जाने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना प्रारम्भ की गई है। जिसके अन्तर्गत पात्र कृषकों को दो हजार रूपये प्रति किस्त की दर से तीन किस्तों में प्रतिवर्ष छः हजार रूपये का भुगतान उनके बैंक खातों में किया जा रहा है। अब तक देश में ग्यारह करोड़ सैंतीस लाख कृषकों के खातों में दो लाख सोलह हज़ार करोड़ रूपये हस्तानान्तरित कराये जा चुके है।
इसी प्रकार प्रदेश में योजनान्तर्गत अब तक लगभग 9 लाख किसान पंजीकृत हो चुके है और अब तक किसानों को रू 1 हज़ार 9 सौ तीन करोड़ की धनराशि उपलब्ध करायी जा चुकी है। उन्होंने कहा जनपद हरिद्वार में योजनान्तर्गत अब तक लगभग 1 लाख 32 हज़ार 4 सौ 93 कृषको को लगभग रू02 सौ 63 करोड़ की धनराशि उपलब्ध करायी जा चुकी है। मंत्री जोशी ने कहा वित्तीय वर्ष 2022-23 के तीसरे चतुर्थ मास की किश्त इस माह प्रधानमंत्री जी द्वारा लगभग 8 लाख किसानों के खाते में रू0 143.60 करोड की धनराशि कृषक भाईयो के खाते में हस्तानान्तिरित की जायेगी ।
मंत्री श्री गणेश जोशी ने कहा कृषकों को कम ब्याज दर पर कृषि ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उनके किसान क्रेडिट कार्ड बनाकर वितरित किये जा रहे है। जिसके अन्तर्गत प्रदेश में अब तक छः लाख सैंतालीस हजार कृषकों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराये जा चुके हैं। इसके साथ ही क्रेडिट धारक किसान को बीमा की सुविधा भी उपलब्ध करायी जाती है। जिसके अन्तर्गत जीवन क्षति अथवा स्थाई अपंगता होने पर रूपये पचास हजार का मुआवजा राशि एवं आंशिक अपंगता की स्थिति में रूपये पच्चीस हजार का मुआवजा राशि का भुगतान किया जाता है। प्रदेश में जैविक कृषि अधिनियम लागू किया गया है। गत पांच वर्षों में जैविक कृषि के क्षेत्रफल में निरन्तर वृद्धि हुयी है। वर्तमान में कृषि क्षेत्रफल का 34 प्रतिशत है। जैविक कृषि क्षेत्रफल बढ़ाने का आगामी वर्ष भी निरन्तर प्रयास किया जा रहा है।
प्रदेश की स्थानीय फसलों को विशिष्ट पहचान दिलाने हेतु जियोग्रफिकल इन्डीकेशन टैग (जी आई टैग) प्रदान कराये जाने हेतु कार्यवाही की जा रही है। मुन्स्यारी राजमा को भारत सरकार द्वारा जी आई टैग प्रदान कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त 11 फसलों यथा-उत्तरकाशी राजमा, पुरोला लाल धान, बेरीनाग चाय, गहत मंडुवा, झंगौराा, बुंराश जूश, काला भटट, चौलाई, अल्मोड़ा लखोरी मिर्च, पहाड़ी तोर दाल तथा माल्टा को जी०आई० टैग प्रदान किए जाने की हेतु भारत सरकार में आवेदन कर दिया गया है। जिससे प्रदेश में किसानों के द्वारा उगायी जा रही फसलों को उसके उत्पादों को एक विशेष स्थान मिलेगा और उसका बहुत ही अच्छा मूल्य किसानों को प्राप्त होगा जिससे किसानों की आर्थिकी में अपेक्षित बढ़ोतरी होकर उनका जीवन स्तर ऊपर उठेगा।
माo मंत्री ने कहा कृषकों द्वारा स्वयं सहकारिता के आधार पर क्लस्टर कृषि को प्रोत्साहित करने के लिये एकीकृत आदर्श कृषि ग्राम योजना राज्य सरकार द्वारा संचालित की जा रही है। जिसमें किसानों की कृषि सम्बन्धी आवश्यताओं को देखते हुये एवं कृषि क्षेत्र में विभिन्न प्रकार को क्रियाकलापों को करने के लिए एक एकीकृत कार्ययोजना तैयार किये जाने के लिये योजना के प्रथम चरण में प्रत्येक विकासखण्ड से एक-एक ग्राम / कलस्टर कुल 95 क्लस्टरों का चयन किया गया है। आगामी वर्षों में अन्य ग्रामों / कलस्टरों में भी योजना संचालित करना प्रस्तावित है, जिसके लिए रूपये बारह करोड़ का प्रस्ताव किया गया है।
इस योजना के द्वारा चयनित गांव में कृषि से सम्बन्धी कार्यों के लिए नवीनतम तकनीकियों का उपयोग कर विकासखण्ड में आदर्श रूप में विकसित किया जायेगा, जिसको विकासखण्ड के अन्य गांव के किसान भ्रमण कर जानकारी प्राप्त कर लाभान्वित होंगे। मंत्री श्री गणेश जोशी ने किसानों से आशा व्यक्त करते हुए कहा कि कृषि के क्षेत्र में हमारे किसान भाई अनवरत इसी प्रकार कार्य करते रहेंगे और इस प्रदेश को खाद्यान्न में आत्मनिर्भर बनाने के साथ-साथ कृषि उत्पादन में एक अग्रणी राज्य के रूप में स्थापित करेंगे। मंत्री गणेश जोशी ने किसानों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का संकल्प है कि जब राज्य 25 वर्ष का होगा तो हम किसानों की आय दोगुनी करेंगे इस दिशा में निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। इस अवसर पर मंत्री जोशी ने किसानो की समस्या को सुना ओर उन्हें शीघ्र उनकी समस्या के समाधान का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर मंत्री जोशी ने कृषि के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित भी किया।
इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष किसान मोर्चा जोगेंद्र पुंडीर, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष मनीष चौधरी, ब्लॉक प्रमुख हर्ष कुमार, भीम सिंह चौधरी, नितिन चौधरी, महिपाल, मोहित,मनदीप चौधरी, प्रमोद चौधरी, नरेंद्र प्रधान, मनोज राठौर, यशवीर चौहान आदि उपस्थित रहे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नकल विरोधी कानून लाया जाना उत्तराखंड के युवाओं की सबसे बड़ी जीत, बहादराबाद में भाजयुमो ने नकल विरोधी कानून के समर्थन में निकाली पद यात्रा

बहादराबाद । भाजपा युवा मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष आशीष रावत ने कहा कि सरकार द्वारा नकल विरोधी कानून लाया जाना उत्तराखंड के युवाओं की सबसे बड़ी जीत है। युवा अपनी मेहनत के बल पर हर क्षेत्र में नौकरी हासिल कर सकेगा। युवाओं को पेपर लीक का दंश झेलना नहीं पड़ेगा। शुक्रवार […]
echo get_the_post_thumbnail();

You May Like

Subscribe US Now

Share