हजारों की संख्या में समर्थकों के दल-बल के साथ विधायक उमेश कुमार ने दाखिल किया अपना नामांकन पत्र

ipressindia
0 0
Read Time:2 Minute, 29 Second

रुड़की (ब्यूरो रिपोर्ट)

देश में जहां लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका हैं, तो वहीं चुनाव प्रक्रिया की तिथि भी घोषित हो चुकी है। इसी के साथ ही प्रत्याशियों ने अपना दम-खम दिखाना भी शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में निर्दलीय विधायक उमेश कुमार ने भी निर्दलीय तौर पर हरिद्वार लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। जिसके अनुरुप आज उन्होंने मंदिर में पूजा-अर्चना की और उसके बाद कैम्प कार्यालय पर हजारों की संख्या में समर्थकों के दल-बल के साथ विधायक उमेश कुमार ने अपना नामांकन पत्र रिर्टनिंग कार्यालय में दाखिल किया। जहां उनके काफिले की भीड़ को देखकर विपक्षी प्रत्याशी दांतों तले अंगूली दबाने को विवश रहे, तो वहीं उनके समर्थकों में भी खासा जोश देखा गया।
चुनाव आयोग के अनुसार हरिद्वार लोकसभा सीट पर प्रथम चरण यानि 19 अप्रैल को वोट डाले जायेंगे। कुल मिलाकर प्रत्याशियों के पास अब से एक माह से भी कम का समय रह गया है। 14 विधानसभा क्षेत्रों में बीस लाख वोटरों तक प्रत्याशियों का पहंुचना किसी चुनौती से कम नहीं हैं, ऐसे में राजनीतिक दलों की यदि बात करें, तो भाजपा ने ही अपना प्रत्याशी घोषित किया है, जबकि कांग्रेस, बसपा व अन्य दल अभी तक अपने पत्ते नहीं खोल पाये। तो वहीं निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतरे विधायक उमेश कुमार ने अपनी ताबड़तोड़ बैठकों के जरिये विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार भी शुरू कर दिया है। आज उन्होंने हजारों समर्थकों के साथ कैम्प कार्यालय से हरिद्वार तक बड़े काफिले के साथ जुलूस स्वरुप नामांकन पत्र खरीदा। जिसके बाद से लोकसभा क्षेत्र के चुनावी समीकरण अलग ही नजर आने शुरू हो गये है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

इकबालपुर गन्ना परिषद सभागार में एक बैठक आयोजित की गई, जिसमें लक्ष्य के अनुरुप विकास कार्यों की पूर्ति की समीक्षा की गई

रुड़की (ब्यूरो रिपोर्ट) इकबालपुर गन्ना परिषद सभागार में एक बैठक आयोजित की गई, जिसमें लक्ष्य के अनुरुप विकास कार्यों की पूर्ति की समीक्षा की गई। ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक प्रदीप कुमार वर्मा ने बताया कि होली के बाद बसंत कालीन गन्ने की बुआई के लिए किसानों को 2 हजार कुंतल […]
echo get_the_post_thumbnail();

You May Like

Subscribe US Now

Share