दिल, लिवर को हेल्दी रखती है 20 मिनट की एक्सरसाइज, कई जानलेवा बीमारियां भी हो जाती हैं दूर

ipressindia
0 0
Read Time:3 Minute, 30 Second

हम सभी जानते हैं कि एक्सरसाइज करने से हमारे शरीर के कई अंग स्वस्थ रहते हैं, साथ ही आप कई जानलेवा बीमारियों को भी दूर कर सकते हैं. फिर भी कई सारे लोग इस काम की व्यस्तता का हवाला देकर नजरअंदाज कर देते हैं. हालांकि आपको बता दें कि कई शोध कार्यों में पाया गया है कि हफ्ते में 150 मिनट का व्यायाम (रोज करीब 20 मिनट) करने से शरीर पर पॉजिटिव स्वस्थ प्रभाव पड़ सकते हैं. इतना ही नहीं, कई जानलेवा बीमारियों से जुड़े खतरों को कम करने में प्रभावी है. आज हम हफ्ते में 150 मिनट की एक्सरसाइज से हमारे शरीर पर होने वाले लाभों के बारे में बात करेंगे.

14 अध्ययनों की एक हालिया सिस्टेमैटिक रिव्यू और मेटा विश्लेषण में पाया गया कि हफ्ते में 150 मिनट तेज चलने से फैटी लिवर के खतरे को कम किया जा सकता है. पेन स्टेट कॉलेज ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया कि 150 मिनट एरोबिक एक्सरसाइज से लिवर फैट कम हो सकती है. एक हफ्ते में 150 मिनट की गतिविधि शरीर में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करती है जिसके परिणामस्वरूप ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट कंट्रोल में आता है.

तनाव कम होता है
सप्ताह में प्रतिदिन करीब 20 मिनट एक्सरसाइज करने से तनाव और डिप्रेशन के नेगेटिव प्रभावों को कम करने में मदद मिल सकती है. तनाव के लेवल को कम करने के लिए व्यक्ति को बाहरी गतिविधियों या खेल जैसी टीम गतिविधियों में संलग्न होना चाहिए. फिजिकल एक्टिविटी के दौरान शरीर की गतिविधियों के माध्यम से जलन और तनाव कम हो जाता है.

मौत का जोखिम 20% से 30% तक कम होता है
हाल ही में, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अक्टूबर 2022 में एक रिपोर्ट जारी की थी कि कैसे शारीरिक रूप से वयस्क और बच्चों की पूरी स्वास्थ्य को समान रूप से प्रभावित करती है. वैश्विक रिपोर्ट में कहा गया है कि 4 में से 1 वयस्क शारीरिक गतिविधि के बताए गए लेवल को पूरा नहीं करता है. अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के लिए लिपिंकॉट विलियम्स एंड विल्किंस द्वारा प्रकाशित एक वैज्ञानिक पत्रिका सर्कुलेशन में जुलाई 2022 में प्रकाशित 1,16,000 से अधिक लोगों के व्यापक अध्ययन में पाया गया कि मध्यम स्तर पर शारीरिक गतिविधि मृत्यु दर को कम कर सकती है. दुनिया भर में होने वाली मौतों में से 32% कार्डियोवैस्कुलर रिस्क के कारण होती हैं.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड में बदलेगा मौसम का मिजाज, मैदान व पहाड़ में 27 फरवरी से एक मार्च तक बारिश के आसार, बर्फबारी की भी संभावना

देहरादून । राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने और उत्तर पूर्वी हवाओं के दबाव के चलते एक बार फिर 27 फरवरी से एक मार्च तक मौसम का मिजाज बदलने की संभावना है। तीन दिन जहां मैदानों में बारिश के साथ ओलावृष्टि हो सकती है। वहीं, उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, बागेश्वर […]
echo get_the_post_thumbnail();

You May Like

Subscribe US Now

Share